1 लगातार थकान महसूस होना

बिना परिश्रम किये यदि आपको थकान महसूस हो रही है, तो यह मोटापे का एक लक्षण हो सकता है। साथ ही यह आपकी नींद को भी प्रभावित करता है।

2 बहुत ज्यादा भूख लगना

अधिक भूख लगना एक सामान्य साइकोलॉजिकल रिस्पांस है। बच्चे जब ग्रोथ करते हैं, तो अक्सर ऐसा देखने को मिलता है। परंतु कभी-कभी यह एक एबनॉर्मल कंडीशन के सिम्टम्स सो सकते हैं। 

3 सांस लेने में परेशानी होना 

यदि आपको अचानक सांस लेने में तकलीफ हो रही है, तो यह आपके बढ़ते वजन के लक्षणों में से एक हो सकता है। मोटापे के कारण छाती के आसपास फैट जमा हो जाता है,

4 एंग्जाइटी और चिड़चिड़ापन 

बढ़ते वजन के साथ आप चिड़चिड़ापन और एंग्जाइटी महसूस करेंगी। जो आपकी मेंटल हेल्थ और मूड को भी प्रभावित कर सकता है।  

5 अस्वस्थ खानपान 

पब मेड द्वारा किये गए अध्ययन में देखा गया कि फैटी फूड्स, जंक फूड्स और अधिक मात्रा में शुगर इन्टेक वजन बढ़ने का एक प्रमुख कारण हो सकता है।

6 कोई लंबी बीमारी या खास दवा 

कई ऐसी दवाइयां है जिनके साइड इफेक्ट के तौर पर हमें वेट गेन की समस्या देखने को मिलती है। नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इन्फॉरमेशन द्वारा किये गए

7 अधिक मात्रा में मीठा खाना 

अधिक मात्रा में शुगर का सेवन शरीर में हार्मोन्स को अनियंत्रित करने के साथ ही शरीर की बायोकेमेस्ट्री को भी बदल देता है। जिस वजह से वजन बढ़ने जैसी समस्याएं सामने आती है। 

8 नींद की कमी 

नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफॉर्मेशन के अनुसार नींद की कमी मोटापे की समस्या का एक कारण हो सकती है, साथ ही यह आपकी सेहत को भी नकारात्मक रूप में प्रभावित करती है। 

9 नींद के वजह से  

पब मेड द्वारा 92 महिलाओं पर अध्ययन किया गया जो 6 घंटे से कम सोती हैं। वहीं 6 घंटे और 6 घंटे से अधिक नींद लेने वाली महिलाओं की तुलना में इन महिलाओं का बीएमआई काफी ज्यादा था। 

आशा करते है हमारी यह Story आपको पसंद आई होगी